Abd Plus Tablets Uses in Hindi :

Abd Plus Tablets Uses in Hindi :

Abd plus tablets एक ऐसी दवा है जिसका उपयोग परजीवी एवं कीड़ों से होने वाले संक्रमण के खिलाफ किया जाता है। Abd plus tablets डॉक्टर की पर्ची के बिना नहीं मिल सकती। यह टेबलेट पेट में कीड़े होने, हुकवर्म और पिन वार्म के लिए दी जाती है। यह दवाई सिरप और टेबलेट दोनों के रूप में बाजार में उपलब्ध है। And plus tablets और अन्य समस्याओं के लिए भी दी जाती है। इसे कितनी मात्रा में लेना है यह मरीज के लिंग, उम्र और उनके पिछले दवाई और बीमारी को देख कर ही दिया जाता है। जिस मरीज को इतिहास में यदि कोई बीमारी हुई है तो उसे डॉक्टर के सलाह के बाद ही इस दवाई को लेना चाहिए।

Abd plus tablets के उपयोग (Abd Plus tablets uses in Hindi)

Abd plus tablets का उपयोग कोई गंभीर समस्या के लिए नहीं दी जाती। गर्भवती महिला भी इसका सेवन कर सकती है। यह टेबलेट हमारे शरीर के उन कीड़ों का विनाश करता है और रोकता है जो हमारे शरीर और पेट के लिए हानिकारक होता है। यह दवाई भारत के साथ साथ संयुक्त राज्य और जापान में भी स्वीकृत कर दी गई है।

  1. Abd plus tablets आंकोसर्कियासिस (Onchocerciasis) जैसी स्थिति के रोकथाम के लिए किया जाता है। जब किसी व्यक्ति को काली मक्खी काट लेती है तो उसकी आंखों की देखने की शक्ति कम होने लगती है तब इस दवाई का उपयोग किया जाता है। ऐसी स्थिति में यह टेबलेट काफी फायदेमंद साबित होती है।
  2. Abd plus tablets में स्ट्रोंगलोइडियासिस (Strongyloidiasis) के भी रोकथाम और उपचार के लिए किया जाता है। इस टेबलेट का उपयोग तब किया जाता है, जब शरीर के आंतों में समस्या हो जाती है और जिसके कारण पेट में दर्द और दस्त होने लगता है।
  3. Abd plus tablets स्कैबीज (scabies) से बचने के लिए भी किया जाता है। इसका उपयोग शरीर में खुजली होते वक्त किया जाता है। गंभीर स्थिति को कम करने के लिए इस टेबलेट का इस्तेमाल किया जाता है। जब शरीर में खुजली और लाल चकते होने लगते हैं तब इस समस्या में Abd plus tablets का उपयोग किया जाता है।
  4. Abd plus tablets न्यूरोसिस्टीसर्कोसिस (Neurocysticercosis) के संक्रमण से बचने के लिए भी दिया जाता है। जानकारी के लिए बता दें कि इसमें सूजन संबंधी रोग, बढ़े हुए अवयव शामिल है।
  5. Abd plus tablets का प्रभाव शरीर में दो से तीन दिन तक बना रहता है। यह शरीर में 3 से 6 महीने के अंदर काम करना शुरू कर देता है। यदि ए बी डी टेबलेट को कोई समय पर लेना भूल जाता है तो भी इसमें कोई दिक्कत वाली बात नहीं है और ना ही परेशान होने की जरूरत है। ऐसा होने पर उसके अगले चरण वाली दवाई अवश्य ले लेना चाहिए।
  6. जो व्यक्ति शराब का सेवन करता है उसे यह दवाई बिल्कुल नहीं लेनी चाहिए। ऐसा करने से उसके दुष्परिणाम भी हो सकते हैं। मरीजों को पेट दर्द होना, त्वचा का लाल हो जाना, उल्टी आना, दस्त होना, सर में दर्द होना इत्यादि समस्याएं देखने को मिल सकती है।
  7. Abd plus tablets ग्लूटामैट गेटेड क्लोराइड आयन पर काम करता है जो इनवर्टेब्रेट तंत्रिका और मांसपेशी कोशिकाओं में होते हैं। इसके साथ ही यह क्लोराइड आयनो के प्रवाह को बढ़ाता है तथा तंत्रिका कोशिकाओं के हाइपरपोलाइजेशन का कारण भी बनता है।
  8. Abd plus दवाई लेने से शरीर में कुछ दुष्परिणाम भी होते हैं जैसे उल्टी आना, सर दर्द करना, बालों का झड़ना, चक्कर आना इत्यादि। कभी-कभी इस दवाई का गलत उपयोग करने से भी दुष्परिणाम हो सकता है। गर्भवती महिलाओं को इससे बचने के लिए पहले डॉक्टर से सलाह लेना आवश्यक होता है।
  9. Abd plus tablets किडनी, ह्रदय और लीवर के लिए पूर्ण रूप से सुरक्षित है। इस दवाई को लेने से कभी-कभी मरीजों को नींद भी आने लगती है इसीलिए इस दवाई का सेवन तभी करें जब डॉक्टर सलाह देते हैं।
  10. बता दें कि Abd plus दवा का उपयोग माइक्रोफिलारेमियां के पतन के लिए भी किया जाता है। जानकारी के लिए बता दें कि यह रक्त का एक ऐसा संक्रमण है, जो माइक्रोफिलारेमियां के कारण भी होता है। इसलिए इस टेबलेट का उपयोग इस समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है।